प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने हिंसा प्रभावित शिव बिहार क्षेत्र का दौरा किया और मृतक विनोद और नरेश सैनी के परिवारजनों से मिले
March 8, 2020 • Bilal Ansari

 

नई दिल्ली, 7 मार्च।  भाजपा प्रदेश अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने आज हिंसा प्रभावित शिव बिहार क्षेत्र का दौरा किया व जले हुए घरों, दुकानों में जाकर दंगों की भयानक साजिश को नजदीक से देखा और हिंसा के दौरान ब्रम्हपुरी में मृतक विनोद और नरेश सैनी के घर जाकर उनके परिवारों से मिले। इस दौरान विधायक श्री अजय महावर, जिलाध्यक्ष श्री कैलाश जैन, पूर्व विधायक श्री जगदीश प्रधान, निगम पार्षद श्री पुनीत शर्मा, भाजपा नेता श्री मनोज त्यागी, श्री आशीष तिवारी, श्री दिनेश धामा, श्री तेजपाल सिंह, श्री आनंद त्रिवेदी, श्री दीपक कुमार, पूर्व निगम पार्षद श्री संजय कौशिक सहित कई पार्टी पदाधिकारी उपस्थित थे। 

श्री मनोज तिवारी ने कहा कि जिस तरह स्कूल को जलाया गया, दुकानों को आग के हवाले किया गया और चुन-चुन कर लोगों के घरों को जलाया गया उसे साफ जाहिर होता है कि एक सोची-समझी साजिश के तहत हिंसा को फैलाया गया था और दंगाई दिल्ली को आग में झोंकने की बड़ी तैयारी के साथ आए थे। उन्होंने लोगों को आश्वस्त किया और निष्पक्ष जांच में जांच एजेंसियों का साथ देने की अपील करते हुए कहा कि हिंसा के लिए जिम्मेदार किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलेगी। ऐसे माहौल में भारतीय जनता पार्टी का प्रत्येक कार्यकर्ता पीड़ित परिवारों के साथ खड़ा है और उनके दर्द को बांटने के लिए पूरी संवेदनशीलता के साथ काम कर रहा है।

श्री तिवारी ने कहा कि हिंसा का भयावह रूप दंगाइयों के अमानवीय चेहरे को उजागर करता है क्योंकि हिंसा के दौरान बच्चों का स्कूल जलाया गया, सैकड़ों वाहनों को आग के हवाले कर दिया। दंगाइयों के कुत्सित मानसिकता का परिचय हिंसा भड़काने के लिए प्रयोग की गई सामग्री और हथियारों से हो रहा है और यह साफ जाहिर है कि दंगाई पेशेवर और मंझे हुए अपराधी थे जो किसी बड़ी साजिश को अंजाम देने के लिए क्षेत्र में तबाही मचा रहे थे। उन्होंने कहा कि हिंसा के दौरान हुए भारी नुकसान और लोगों के पुनर्वास का काम करना सरकार और समाज के सब लोगों का नैतिक कर्तव्य है और उसका निर्वहन कर हम सबको एक बार फिर उजड़े हुए समाज को पुनर्जीवित करने का काम करना है। हमें यह साबित करना है कि बुराई चाहे जितनी भी बड़ी हो लेकिन अंत में विजय सत्य की ही होती है और बुराई का कद इंसानियत के सामने हमेशा बौना होता है।