गाय व पंछियों संग मनाया स्वतंत्रता दिवस
August 17, 2020 • Shivani Choudhary

गाय हिंदू धर्म की जागीर नहीं : मुश्ताक़ अंसारी 

नई दिल्ली।कोरोना महामारी के कारण पूरा देश में आर्थिक संकट के दौर से गुज़र रहा है,कोरोना अभी ख़त्म नहीं हुआ है इसलिए सोशल डिस्टेंसिंग भी ज़रूरी है। इसी कारण इस वर्ष स्वतंत्रता दिवस पर होने वाले प्रोग्रामों की संख्या बहुत सीमित रही ! बड़े आयोजनों पर प्रतिबंध है,लेकिन आज़ादी का जश्न भी ज़रूरी हैं तो अधिकांश लोगों ने अलग अलग अंदाज़ में इस राष्ट्रीय पर्व को सेलिब्रेट किया।कहीं ध्वजारोहण हुआ,तो कहीं मास्क व सेनिटाइजर बाँटे गए,तो किसी ने ग़रीब व जरूरतमंदों की मदद की ! इसी कड़ी में फ़ेस ग्रुप के चेयरमेन डॉक्टर मुश्ताक़ अंसारी ने गायों को चारा व पंछियों को दाना डालकर इस दिन को यादगार बनाया ! 
डॉक्टर अंसारी ने अपने वक्तव्य में कहा कि इस कोरोना महामारी में जहाँ ग़रीब व मध्यवर्ग दो वक्त की रोटी तक के लिए परेशान हैं तो वहीं पशु पंछियों की स्थिति भी ठीक नहीं है। उन्होंने कहा देश  पर भारी संकट चल रहा है ऐसी स्थिति में बेरोज़गारी के कारण जब लोगों को दो वक़्त की रोटी के लिए भी संघर्ष करना पड़ रहा है तो वह पशु पक्षियों का ख्याल कैसे रख पाएंगे।उन्होंने कहा जो लोग अभी पशु पक्षियों के भोजन की व्यवस्था कर रहे हैं वह अपनी सेवा की क्वांटिटी बढ़ा दें !
फेस न्यूज़ के संपादक डॉक्टर मुश्ताक़ अंसारी ने  यह भी कहा कि जो लोग अपनी गायों को खुलेआम सड़क पर कचरा खाने के लिए छोड़ देते हैं और फिर शाम को उनका दूध  निकालकर बेच देते हैं ऐसे लोगों के विरुद्ध क़ानूनी कार्रवाई होनी चाहिए !उन्होंने कहा ग़ाज़ीपुर, गोकुलपुरी,राजगढ़,त्रिलोकपुरी,सुल्तान पुरी आदि सैकड़ों इलाकों में घरेलू गाय घूमती रहती हैं,जिससे यातायात भी बाधित होता है। डॉक्टर अंसारी ने मुस्लिम समुदाय से अपील करते हुए कहा कि गाय हिंदू धर्म के मानने वालों की जागीर नहीं है इसलिए आप भी गाय की सेवा करें व उसकी रक्षा करें तथा पशु पक्षियों को भी भोजन मुहैया कराएं ! अच्छा कार्य करने से आपको कोई नहीं रोकेगा और इससे आपकी सौहार्द को भी बल मिलेगा !