एशिया का सबसे बड़ा कचरे का पहाड़ एक साल में 40 फीट कम हुआ : गौतम गंभीर
July 29, 2020 • Bilal Ansari

नई दिल्ली, 28 जुलाई। पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने आज गाजीपुर लैंडफिल साइट का निरीक्षण किया और  वहां चल रहे कार्यों का जायजा लिया। इस मौके पर पूर्वी दिल्ली नगर निगम महापौर निर्मल जैन, स्थाई समिति अध्यक्ष सत्यपाल सिंह, नेता सदन प्रवेश शर्मा, कमिश्नर दिलराज कौर सहित निगम पार्षद, जिला, मंडल एवं आरडब्लूए के पदाधिकारी उपस्थित थे।

इस मौक़े पर श्री गौतम गंभीर ने कहा कि यह बहुत ही खुशी की बात है कि एशिया के सबसे बड़ा कचरे का पहाड़ एक साल में 40 फीट कम हो गया है। पूरी सच्चाई के साथ काम करते हुए हमने गाजीपुर लैंडफिल साइट के कचरे के पहाड़ की ऊंचाई को कम करने का काम किया है। इस काम के लिए पूरा श्रेय पूर्वी दिल्ली नगर निगम को जाता है, जिन्होंने हिम्मत और मेहनत से इस काम को सफल बनाया है। उन्होंने कहा कि 30-40 सालों से लगातार कचरा जमा हो रहा है और उसके रोजाना उस पर कचरा डाले जाने के कारण उसकी लंबाई बढ़ती जा रही है। लैंडफिल की लगातार बढ़ रही ऊंचाई को देखते हुए पिछले साल सितंबर के महीने में यहां 8 ट्रोमिल मशीनें लगाई गई थीं और अगस्त में 4 और ट्रोमिल मशीन लगाई जाएगी।
श्री गंभीर ने कहा कि हर आरडब्ल्यूए में कंपोज मशीन लगाई जा रही है जिससे कचरा वही खत्म हो जाएगा। काम की शुरुआत हो चुकी है और रिजल्ट भी दिख रहा है। हमारी यही कोशिश रहेगी कि ऊंचाई जल्द से जल्द कम हो सके। गाजीपुर लैंडफिल साइट पर 20 साल की सरकारों का कूड़ा है जिसे साफ करने में समय लगेगा। उन्होंने कहा यह मुख्यमंत्री केजरीवाल जी के झूठ का पहाड़ नहीं है जो कम नहीं हो सकता है। मैंने कई बार मुख्यमंत्री केजरीवाल को लैंडफिल साइट का निरीक्षण करने का आमंत्रण भेजा लेकिन उन्होंने 6 साल में एक बार भी निरीक्षण करने की कोशिश नही की। आम आदमी पार्टी सिर्फ नगर निगम की बुराई करती रहती है और जब नगर निगम के काम की तारीफ करने का वक्त आता है तो वह कहीं पर नजर नहीं आते हैं