दिल्ली हिंसा फायरिंग करने वाले शाहरुख को 4 दिन की पुलिस रिमांड
March 4, 2020 • Bilal Ansari

क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी अजीत सिंगला ने कहा कि शाहरुख ने जिस पिस्टल से जाफराबाद में फायरिंग की थी, दरअसल उसे मुंगेर से खरीदा गया है. शाहरुख अपने घर में जुराब की फैक्ट्री चलाता है

नागरिकता संशोधन कानून ( CAA) को लेकर दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान पुलिस पर पिस्तौल तानने वाले शाहरुख को मंगलवार को उत्तर प्रदेश के शामली से गिरफ्तार किया गया. शाहरुख घटना के बाद से ही फरार था. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने शाहरुख को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे 4 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया.

बता दें कि दिल्ली हिंसा के दौरान 24 फरवरी को जाफराबाद इलाके में एक शख्स ने 8 राउंड फायरिंग की थी. इस शख्स ने फायरिंग के दौरान एक पुलिस कर्मी पर पिस्टल भी तान दी थी. फायरिंग करते हुए यह शख्स फिर भीड़ में गायब हो गया था. इस शख्स की पहचान शाहरुख के रूप में हुई थी.

शाहरुख ने दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल दीपक दहिया पर पिस्टल तानी थी. दीपक दहिया ने आज तक से खास बातचीत में कहा था कि शख्स सामने से फायरिंग करते हुए आ रहा था. दूसरे लोग उसकी फायरिंग की जद में न आ जाएं, इसके लिए उन्होंने उसे बीच में ही रोक लिया.

क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी अजीत सिंगला ने कहा कि शाहरुख ने जिस पिस्टल से जाफराबाद में फायरिंग की थी, दरअसल उसे मुंगेर से खरीदा गया है. शाहरुख अपने घर में जुराब की फैक्ट्री चलाता है. उसका एक साथी उसके घर में ही काम करता था, शाहरुख ने उसी से पिस्टल ली थी. उन्होंने कहा कि शाहरुख का कहना है कि जब प्रदर्शन चल रहे थे और पत्थरबाजी हो रही थी तभी वह तैश में आ गया और खुद को गोली चलाने से रोक नहीं पाया.