धूमधाम से मनाया भूतपूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का 76वां जन्मदिवस"
August 21, 2020 • Bilal Ansari
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा आज  प्रदेश कार्यालय में भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी का 76 वां जन्मदिवस प्रदेश अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार के नेतृत्व में मनाया गया। इस मौके पर भूत पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी जी के कार्यकाल में कराए गए विभिन्न ऐतिहासिक विकास कार्यों और योजनाओं का बखान किया गया और  उनके कार्यकाल में देश के द्वारा हासिल की गई उपलब्धियों को याद किया। प्रदेश अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने इस मौके पर कहां कि राजीव जी के कार्यकाल में विभिन्न  ऐतिहासिक कार्य हुए जिन्हे राष्ट्र सदैव याद रखेगा। उन्होंने  कहा कि पूर्व पीएम राजीव गांधी को बताओ आधुनिक भारत का निर्माता भी कहा जाता है। राजीव गांधी जी सबसे युवा देश के प्रधानमंत्री बने। 40 साल में प्रधानमंत्री बनने वाले राजीव गांधी ने आधुनिक भारत की नींव रखने की दिशा में काम किया। 1987 में राजीव गांधी ने सती आयोग (रोकथाम अधिनियम) के तहत सती प्रथा को अपराध घोषित किया।
राजीव गांधी जी के कार्यकाल में सूचना व प्रसारण कंप्यूटर डिजिटलाइजेशन दूरसंचार क्षेत्र में व्यापक  क्रांति: ने देश को एक नई दिशा दी। पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का मानना था कि विज्ञान और तकनीक की मदद के बिना उद्योगों का विकास नहीं हो सकता। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी कानून व मानवाधिकार विभाग के महासचिव एडवोकेट हरीश गोला इस मौके पर कहा की तत्कालीन प्रधानमंत्री श्री राजीव गांधी जी ने ना सिर्फ कंप्यूटर को घर- घर तक लाने का काम किया बल्कि देश को सूचना  तकनीक में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आगे ले जाने में अहम रोल निभाया। उनकी सोच थी की 21वीं सदी में नई  पीढ़ी कंप्यूटर और विज्ञान के जरिए ही आगे जा सकती है। विश्व में प्रथम कंप्यूटर सन 1940 के दशक में आया था और भारत मे सन 1956 में। एडवोकेट हरीश गोला ने याद दिलाया कि जब  देश अलगाववाद और उग्रवाद से ग्रस्त था तब उन्होंने देश को एकजुट करने का काम किया। मिजोरम, पंजाब और असम समझौते में विचारशील बातचीत के माध्यम से उन्होंने देश में राष्ट्रीय एकता, शांति और सुरक्षा के लिए मानक निर्धारित किए।
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के डेलीगेट श्री नरेश शर्मा नीटू ने इस मौके पर कहां की उनकी दूरदर्शिता के परिणाम स्वरूप आज देश में डिजिटलाइजेशन हो पाया है।   दूरसंचार के क्षेत्र में  1980 के दशक में  महानगर टेलीफोन निगम  देश के अंदर स्थापित किया गया।  जिससे दूरसंचार क्षेत्र में और प्रगति हुई।
लोकतंत्र  के मद्देनजर  पूर्ण पंचायती राज  व्यवस्था को  लागू किया जिससे बिना कोई भेदभाव के  निचले स्तर पर प्रत्येक नागरिक को बल मिल सके । राजीव गांधी की सरकार ने पंचायतीराज और नगर पालिका अधिनियमों के जरिए उन्होंने ये सुनिश्चित किया कि नीति निर्माण और स्थानीय एवं राष्ट्रीय राजनीति में महिलाओं की आवाज़ को मजबूती मिले। युवा पीढ़ी को विश्वास में लेते हुए उन पर भरोसा करते हुए वोट डालने का अधिकार 21 साल से घटाकर अट्ठारह साल किया गया यह भी राज्य सरकार की देन है। उन्होंने 18 वर्ष की उम्र के युवाओं को मताधिकार देकर उन्हें देश के प्रति और जिम्मेदार बनाने की पहल की। 1989 में संविधान संशोधन के जरिए वोट देने की उम्रसीमा 21 से घटाकर 18 वर्ष कर दी गई। पूर्व प्रधानमंत्री श्री राजीव गांधी जी के 76वें जन्मदिन के उपलक्ष पर उनके कार्यकाल में की गई उपलब्धियों का एक पोस्टर भी प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने जारी किया। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के इस कार्यक्रम में अन्य गणमान्य कांग्रेस जनों में एडवोकेट हरीश गोला,  नरेश शर्मा, महिंद्र भास्कर, अशोक जैन सहित अन्य नेतागण व कार्यकर्ता उपस्थित थे।