भाजपा ने अपने घोषणापत्र के हर वादे को पूरा किया है जिसने लोकतंत्र में घोषणापत्र की महत्ता को तो स्थापित किया ही है,- श्याम जाजू
June 3, 2020 • Bilal Ansari

 

नई दिल्ली, 2 जून।  मोदी सरकार 2.0 का पहला साल बेमिसाल रहा। माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश के सर्वांगीण विकास के लिए समर्पित भाजपा सरकार के द्वितीय कार्यकाल का सफल एक वर्ष पूर्ण हो चुका है। केंद्र में भाजपा सरकार के दूसरे कार्यकाल के ऐतिहासिक और अभूतपूर्व 1 साल पूरे होने पर मोदी सरकार की मुख्य उपलब्धियां से अवगत कराने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व दिल्ली प्रभारी श्री श्याम जाजू, दिल्ली भाजपा प्रदेश पूर्व अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी एवं दिल्ली विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष श्री रामवीर सिंह बिधूड़ी ने आज दिल्ली भाजपा कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया। इस अवसर पर मोदी 2.0 के पहला साल में किए गए कार्यों की बुकलेट का विमोचन भी किया गया। इस अवसर पर प्रदेश मीडिया प्रभारी श्री नीलकांत बक्शी व मीडिया प्रमुख श्री अशोक गोयल देवराहा उपस्थित थे।

इस मौके पर श्री श्याम जाजू ने कहा कि एक साल में इतनी उपलब्धि हासिल करना अपने आप में कीर्तिमान है। मोदी सरकार अपने चुनावी घोषणा पत्र में किए गए वादों को संकल्प मानकर पूरा कर रही है। भाजपा ने अपने घोषणापत्र के एक-एक वादे को जमीन पर उतार कर दिखाया है। इसने लोकतंत्र में घोषणापत्र की महत्ता को तो स्थापित किया ही है, साथ ही लोकतंत्र की जड़ों को भी मजबूत किया है। उन्होंने कहा कि कोरोना से भारत में मृत्यु दर अन्य देशों की तुलना में सबसे कम है, जो कि मोदी सरकार की नीति की वजह से ही है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने जहां तुम, वहां हम की नीति पर काम करते हुए हर किसी को मदद पहुंचाई है। 5 करोड़ लोगों को भोजन, 52 करोड़ लोगों को मास्क, 4 लाख 80 करोड़ राशन राशन किट उपलब्ध कराने जैसे तमाम मदद की है। साथ ही उन्होंने दिल्ली सरकार को चेतावनी दी कि अगर सरकार दिल्ली की जनता को बेहतर सुविधा नहीं देती है तो वह आंदोलन और तेज करेंगे।

श्री मनोज तिवारी ने कहा कि मोदी सरकार ने पहले साल में इतने काम किए हैं कि उन्हें एक दिन में बताना मुश्किल है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश को आत्मनिर्भर बनाने का जो सपना देखा उसे पूरा करने के लिए सभी मंत्री, सांसद, पदाधिकारी और कार्यकर्ता जी जान से लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि पहले ही साल में मोदी सरकार ने जम्मू एंड कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने, नागरिकता संशोधन कानून 2019 को पास करने, राम मंदिर के निर्माण का मार्ग प्रशस्त करने, मुस्लिम महिलाओं के हक के लिए तीन तलाक जैसी कुप्रथा को समाप्त करने, करतारपुर गलियारा राष्ट्र को समर्पित करने, ब्रू- रियांग समझौता और बोडो समझौते जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लिए। उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 के हटने से आतंकवादियों का सफाया हुआ है और लगातार हमारी सेना हर मोर्चो पर इनका सफाया कर रही है। इसके साथ ही उन्होंने मोदी सरकार की तमाम उपलब्धियों का उल्लेख किया। सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास, ये एक नारा ही नहीं, बल्कि हमारा लक्ष्य है। 

श्री रामवीर सिंह बिधूड़ी ने गरीबों को मदद पहुंचाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत किसानों, महिलाओं, मजदूरों को आर्थिक सहायता दी गई। लॉक डाउन के दौरान श्रमिक मजदूरों को उनके राज्य पहुंचाने का 85% खर्च केंद्र सरकार ने उठाया और उन्हें भोजन भी मुहैया करवाया। दिल्ली की 1700 से अधिक अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित करने का निर्णय लेकर केंद्र सरकार ने दिल्ली के अनधिकृत कॉलोनियों में रहने वाले 40 लाख लोगों के घरों को मालिकाना हक दिया। दिल्ली सरकार की स्वास्थ्य व्यवस्था पर सवाल खड़े करते हुए उन्होंने कहा कि 7 अप्रैल को दिल्ली सरकार ने दावा किया था कि कोरोना मरीजों के इलाज के लिए 30 हजार अतिरिक्त बेड की व्यवस्था की तैयारी हो गई है, लेकिन हाल ही में कोर्ट में दिए गए हलफनामे में दिल्ली सरकार की पोल खुल गई, जिसमें पता चला कि दिल्ली सरकार दो महीने में सिर्फ 200 बेड ही बढ़ा पाई है। उन्होंने यह भी कहा कि नियम के अनुसार निजी अस्पतालों में गरीब लोगों के लिए 25 प्रतिशत बेड रिजर्व होते हैं, जहां उन्हें फ्री इलाज दिया जाना चाहिए जबकि गरीबों को वहां इलाज के लिए लाखों खर्च करने पड़ रहे हैं। उन्होंने दिल्ली सरकार द्वारा एक दिन पहले की जारी किए गए ऑर्डर का भी जिक्र किया, जिसमें कोविड मरीजों के इलाज के लिए बेड बढ़ाने की तैयार करने का जिक्र किया गया है। एक ओर दिल्ली सरकार अप्रैल में तैयारी का दावा कर रही थी वहीं इस आदेश ने सरकार के दावों की पोल खोल दी है।