Z
January 24, 2020 • Bilal Ansari

नई दिल्ली, 23 जनवरी।  दिल्ली विधानसभा चुनावों के लिए भाजपा के प्रत्याशीयों के पक्ष में जनसमर्थन जुटाने के लिए आज केन्द्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह ने मटियाला, उत्तम नगर और नांगलोई विधानसभा में विशाल जनसभाओं को सम्बोधित किया। उत्तम नगर विधानसभा में केन्द्रीय गृहमंत्री श्री अमित शाह ने रोड शो कर लोगों को केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के बारें बताने के साथ ही आम आदमी पार्टी की विफलताओं के बारें में बताया। इस अवसर पर सांसद श्री प्रवेश साहिब सिंह वर्मा, मटियाला के प्रत्याशी श्री राजेश गहलोत, उत्तम नगर के प्रत्याशी श्री कृष्ण गहलोत एवं नांगलोई जाट विधानसभा की प्रत्याशी श्रीमती सुमन लता शौकिन उपस्थित थे।

विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुये केन्द्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने कहा कि आज यहां से चुनाव प्रचार का श्री गणेश हो रहा है इसलिए आपकी जिम्मेदारी है कि आप मटियाला में श्री राजेश गहलोत को, उत्तम नगर के प्रत्याशी श्री कृष्ण गहलोत को और नांगलोई जाट विधानसभा की प्रत्याशी श्रीमती सुमन लता शौकिन को भारी बहुमत से  विजयी बनाये। मैं आज आपका जनसमर्थन मांगने आया हूं और मुझे पूर्ण विश्वास है कि आप भाजपा के साथ है। दिल्ली के चुनाव में जनता वोट डालकर नई सरकार चुनने जा रही है। आपका एक वोट यह तय करेगा कि दिल्ली में अगली सरकार किस पार्टी की होगी। आपका वोट ये तय करेगा कि पांच साल के लिए मोदी जी की तरह काम करने वाली सरकार चाहिए या फिर धरना प्रदर्शन करने वाली सरकार चाहिए। पहली जनसभा में आपको में विश्वास दिलाता हूं कि मोदी जी को एक मौका दिजिए हम दिल्ली को विश्व की राजधानीयों मे श्रेष्ठ बना देगें। पांच साल पहले भरोसा करके केजरीवाल सरकार को जनता ने चुना लेकिन उन्होनें जो वादे किये उसे वो पूरा करना भूल गये लेकिन जनता नहीं भूलती है। हमारे पांस पूरी सूची है, आम आदमी पार्टी ने कहा था कि 500 नये स्कूल बनायेगें, 20 नये कॉलेज बनायेगे लेकिन न कॉलेज दिखा न ही एक भी नया स्कूल। 15 लाख सीसीटीवी लगाने की बात कही लेकिन 25-30 हजार लगाकर दिखावा जनता के सामने किया गया। 5 हजार डीटीसी बसे लानी थी लाये केवल 300 और 8 लाख बेरोजगार युवाओं को नौकरी देने की बात कही थी लेकिन नौकरी तो दी नहीं और जो पहले से काम कर रहे थे उन्हीं को परमानेन्ट नहीं कर पाये। फ्री वाई-फाई का वादा हवा-हवाई हो गया। जन लोकपाल लाना था जिसको मुद्दे को मुख्य रूप से आन्दोलन में उठाकर आप सत्ता में आये लेकिन केजरीवाल सरकार तो उसे लेकर नहीं आयी लेकिन मोदी जी ने जनलोकपाल का बिल पास किया लेकिन दिल्ली में रोकने का काम केजरीवाल ने किया।
जारी..2


2.

श्री अमित शाह ने कहा कि 15 अस्पताल बनाने का वादा किया था आम आदमी पार्टी ने लेकिन एक भी नहीं बनाया। नये फ्लाईओवर बनाने की बात कही लेकिन वो भी कहीं नजर नहीं आया। यमुना स्वच्छ कर देगें कहा था यमुना तो साफ नहीं कर पाये लेकिन दिल्ली के मुख्यमंत्री ने दिल्ली के घरों में जो पीने का पानी आता था उसे ही गन्दा कर दिया। जनता दूषित पानी पीने को मजबूर है केजरीवाल के बस में नहीं है युमना को साफ करना। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने गंगा को साफ किया है और अब भाजपा की नई सरकार दिल्ली में यमुना को भी साफ करेगी। आम आदमी पार्टी ने वादा किया था कि 1731 अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित कर देगें लेकिन नियमित करना तो दूर बाधा बनकर हमेशा मुख्यमंत्री खड़े हुये। कई बार पत्र लिखा केन्द्र सरकार ने समय मांग कर टालमटौल को समझते हुये केन्द्र ने सर्वे कराकर ऐतिहासिक निर्णय लेते हुये 40 लाख से अधिक लोगों को उनके घर का मालिकाना हक देने का काम किया। मोदी जी ने  5000 रूपये की मामूली रकम पर घर की रजिस्ट्री करके जनता को उसके घर का मालिक बनाया। केजरीवाल ने जहां झुग्गी वहां मकान का वादा किया लेकिन ये वादा भी झूठा निकला। मोदी जी ने जिस प्रकार अनधिकृत कॉलोनियों को नियमित किया है ठीक उसी तरह से जहां झुग्गी वहां मकान योजना के तहत हम झुग्गी वालों को पक्का दो रूम का फ्लैट देने जा रहे है। केन्द्र सरकार ने एक कदम आगे बढ़ते हुये है 3 लाख झोपड़ीयों का सर्वे पूरा कर लिया है। आम आदमी पार्टी कहती है हमने यह मुफ्त वो मुफ्त दिया। केन्द्र सरकार ने आयुष्मान भारत योजना पूरे देश में लागू की जिसके तहत 5 लाख का मुफ्त इलाज देश के हर नागरिक को मिलना था। देश के 50 करोड़ लोगों को इसका लाभ मिल रहा है। इसमें टेस्ट, होस्पिटलाईजेशन, आप्रेशन, दवाईया 5 लाख तक सारा खर्च मोदी सरकार देने वाली है। इस देश में 1 करोड़ से ज्यादा लोगों का आप्रेशन हो चुका है लेकिन इस योजना का लाभ दिल्ली वालों को नहीं मिला क्योंकि दिल्ली के मुख्यमंत्री ने इस योजना को लागू होने से रोक दिया है। केजरीवाल को डर है यदि आयुष्मान लागू होता तो दिल्ली की जनता मोदी जी को वोट करती।

श्री अमित शाह ने कहा कि आप सभी दिल्ली में भाजपा की सरकार लेकर आयेगें तो दिल्ली में भी आयुष्मान भारत योजना लागू होगी जिसके तहत अच्छे से अच्छे अस्पताल में ईलाज आपको मिल सकेगा। केन्द्र सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना लेकर के आयी उसे भी लागू नहीं किया। दिल्ली के लिए केन्द्र सरकार की 112 योजनाओं है इसके बीच में सबसे बड़ा रोड़ा आम आदमी पार्टी की सरकार है एक बार यह रोड़ा हट गया तो दिल्ली की जनता को इन योजनाओं का लाभ मिलेगा। मोदी जी ने मेट्रो का विस्तार किया, मेरठ तक रोड बनाया, शहरी गांव बनाये और अब अनधिकृत कॉलोनियों के नियमित होने के बाद सीवर, शौचालय, कूड़ा घर, स्कूल, अस्पताल लोगों को मिलेगा। यह वो ही केजरीवाल है जिन्होनें साढ़े चार वर्ष कहा कि मुझे मोदी जी काम नहीं करने दे रहे है इसलिए दिल्ली का विकास नहीं हो पाया और अब कहते है कि पांच साल खूब किया काम लगे रहो केजरीवाल। हम कहते है कि दिल्ली का पीछा छोड़ दो केजरीवाल। पांच साल में एक भी चुनाव नहीं जिते केजरीवाल निगम का चुनाव हुआ फिर लोकसभा का चुनाव हुआ जनता ने इन्हें हराकर करारा जवाब दिया। वाराणसी से लड़े हार गये, हरियाण और पंजाब में चुनाव हुआ जनता ने नकार दिया। आम आदमी पार्टी को एक बार जिताने के बाद हर बार हराया है। कश्मीर से सम्बन्धित अनुच्छेद 370 समाप्त हो यह देश का हर नागरिक चाहता था। कांग्रेस ने कश्मीर से देश की ऐसी दीवार खीच के रखी थी जिसके कारण भारत का अभिन्न अंग होते हुये भी कश्मीर हमसे दूर लगता था। मोदी जी को देश की जनता ने 303 सांसदों के साथ पुनरू प्रधानमंत्री बनाया और महज 100 दिन के भीतर अनुच्छेद 370 को कश्मीर से समाप्त कर हमनें अपना वादा पूरा किया। राम मन्दिर को लेकर विपक्ष ने खुब विरोध किया लेकिन सुप्रीम कोर्ट के एक निर्णय से स्पष्ट हो गया कि अयोध्या में उसी स्थान पर जहां भगवान राम का जन्म हुआ वहां भव्य मन्दिर का निर्माण किया जायेगा। भारत माता के टूकड़े चाहने वालों ने देश विरोधी नारे लगाये जब पुलिस ने उन्हें पकड़ा और मुकदमा चलाया तो केजरीवाल ने मुकदमा चलाने की अनुमति न देकर यह साबित कर दिया कि वो टूकड़े-टूकड़े गैन्ग के साथ खड़े है। देश विरोधी नारे लगाने वालों को जेल के सलाखों के पीछे पहुंचाने का काम मोदी सरकार ने किया है। मोदी सरकार ने पाकिस्तान बांग्लादेश अफगानिस्तान से आये धर्म के आधार पर प्रताड़ना झेल रहे लोगों को भारत की नागरिकता देने का काम कर रही है लेकिन कांग्रेस और आम आदमी पार्टी जो कि मुद्दाविहिन हो चुकी है जनता में भ्रम फैलाकर लोगों को भड़का रही है उकसा रही है। ऐसे लोग जो दिल्ली के लिए नाकाम साबित हुये है उन्हें सत्ता में बने रहने का कोई अधिकार नहीं है और इस चुनाव में जनता उन्हें सत्ता से बेदखल कर दिल्ली में भाजपा की सरकार बनाने के लिए तैयार है।